खांशी का देशी इलाज

खांशी का देशी इलाज

खांशी का देशी इलाज
  1.  मुलहठी , कत्था और गोंद बबूल प्रत्येक दस ग्राम लेकर           

कूट – पीसकर कपड़े से छान लें | अदरक के रस में दो – तीन घण्टे

घोटकर चने के बराबर गोलियां बना लें और एक – एक गोली चूसते 

रहें | खांसी के लिए अत्यन्त लाभदायक है |

2. दस – पन्द्रह तुलसी के पत्ते और आठ – दस काली मिर्च की चाय 

बनाकर पीने से खांसी , जुकाम व बुखार ठीक हो जाता है |

3॰ आंवले के छिलके को सुखाकर चूर्ण बनाकर और बराबर मिश्री मिला लें |

 6 ग्राम सुबह ताजे पानी से खाएं | पुरानी – से पुरानी खांसी ठीक हो जाएगी |

4॰   मुलहठी , काली मिर्च 10 – 10 ग्राम भूनकर पीस लें और 30 ग्राम पुराने गुड 

में मिला लें | मटर जितनी गोलियां बनाकर ताजे पानी के साथ सेवन करें | खाँसी 

जड़ से ठीक हो जाएगी |

5. अदरक का रस व शहद 10 – 10 ग्राम बराबर मिलाकर गर्म करके चाटने से खाँसी 

ठीक हो जाती है |

 

खांशी का देशी इलाज

Random Posts

  • बीरबल की योग्यता

    दरबार मे बीरबल से जलने वालों की कमी न थी बादशाह अकबर का साला तो कई बार बीरबल से मात […]

  • खतरे

                                            […]

  • किसका अच्छा

    बादशाह अकबर दरबार में पधारे थे |सभासद भी उपस्थित थे |इसी बीच बादशाह के ध्यान में पांच प्रश्न आये जिनको […]

  • Jija Sali Shayari ,Swal Javab-With Image Shayari

    Jija Shali Shayari ,Swal Javab-With Image जीजा साली का रिश्ता बहुत ही प्राचीन काल से चलता आ रहा है | […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*