खांशी का देशी इलाज

खांशी का देशी इलाज

खांशी का देशी इलाज
  1.  मुलहठी , कत्था और गोंद बबूल प्रत्येक दस ग्राम लेकर           

कूट – पीसकर कपड़े से छान लें | अदरक के रस में दो – तीन घण्टे

घोटकर चने के बराबर गोलियां बना लें और एक – एक गोली चूसते 

रहें | खांसी के लिए अत्यन्त लाभदायक है |

2. दस – पन्द्रह तुलसी के पत्ते और आठ – दस काली मिर्च की चाय 

बनाकर पीने से खांसी , जुकाम व बुखार ठीक हो जाता है |

3॰ आंवले के छिलके को सुखाकर चूर्ण बनाकर और बराबर मिश्री मिला लें |

 6 ग्राम सुबह ताजे पानी से खाएं | पुरानी – से पुरानी खांसी ठीक हो जाएगी |

4॰   मुलहठी , काली मिर्च 10 – 10 ग्राम भूनकर पीस लें और 30 ग्राम पुराने गुड 

में मिला लें | मटर जितनी गोलियां बनाकर ताजे पानी के साथ सेवन करें | खाँसी 

जड़ से ठीक हो जाएगी |

5. अदरक का रस व शहद 10 – 10 ग्राम बराबर मिलाकर गर्म करके चाटने से खाँसी 

ठीक हो जाती है |

 

खांशी का देशी इलाज

Random Posts

  • बड़ा कौन

    अकबर ने दरबार मे प्रश्न किया -“सबसे बड़ा कौन है ? दरबार मे जीतने भी दरबारी बैठे थे सभी के […]

  • Chutkule Hindi Me

    Chutkule Hindi Me मालिक – हमें अपने दफ्तर के लिए एक ऐसे व्यक्ति की जरूरत है , जो निडर , […]

  • मनपसंद चीज

    बादशाह अकबर अपनी बेगम से किसी बात पर नाराज हो गए | नाराजगी इतनी बढ़ गयी कि उन्होने बेगम को […]

  • आत्मसम्मान ,Self-Esteem

                आत्मसम्मान ,Self-Esteem सकारात्मक नजरिया विकसित करना –  कोई आदमी अपने बारे में जो सोचता […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*