रोमांटिक शायरी

हिन्दी शायरी 

रोमांटिक  शायरी

  (1 )   तारीफ हम क्या करे तेरी लम्बी जुल्फों की |

       लगी है गहरी चोट तेरे इन दोनों नयनो की ||

 

(2)    छ्ज्जे पे तू खड़ी थी मस्ती मे गा रही थी |

        करके उंगली का इशारा हमे बुला रही थी ||

 

(3)    छिना    है   प्यार मे   तूने   मेरा   दिल |

         ले  जाऊँगा  दुल्हन  बनाके  एक  दिन ||

 

(4)    क्यो पत्थर मारती हो पहाड़ मर देती |

         हम तो वैसे ही मर जाते तुम जरा आँख मर देती ||

 

(5)     दिल लेकर अभी मुकर जाना अभी ठीक नहीं |

          हम अपनी चीज मंगते है तुमसे भीख नही ||

 

(6)      दिल चाहता है सिने से लगालू तुमको |

           इश्क चाहता है की आंखो मे छुपा लू तुमको ||

 

(7)     आंखो  से आँख मिलती है दो से चार बनकर |

          हम आप से मिलते है गले का हर बनकर ||

 

(8)     अपनी कहेंगे कुछ सुनेंगे जब आएंगे सामने |

          पत्थर बना दिया है जुबां हो हुजूर आपने ||

 

(9)     बालो मे गजरा भरकर आप आँख न मारिये |

          मुखड़ा विकट बनाके आप डाका न डालिए ||

 

(10)   तनहाई मे जब याद आपको कभी आती है |

          तबीयत हमारी आपके फोटो से बहाल जाती है ||

 

हिन्दी शायरी

 (11)    इस खत मे ए दिल है मेहँदी मे मिला देना |

          जिस रोज बनो दुल्हन हाथो मे लगा लेना ||

 

(12)   अपनी रहो पे हम यू ही चलते रहेगे |

          हम देखने वाले यू ही जलते रहेगे ||

 

(13)   लिपट जाओ एक बार गले हमारे |

          कोई दीवार न रहे बीच मे हमारे तुमरे ||

 

(14 ) लिपट जाती जरूर अगर जमाने का डर न होता |

          बसा लेती मै तुमको अगर सिने मे घर होता ||

 

(15)   काफिर है अगर बस्ल का अरमान रखते है |

         लिपटने लिपटने की तमन्ना तो शैतानी रखते है ||

 

(16) चाँद सा मुखड़ा दिखाकर मुह छिपाना छोड़ दो |

लगाकर दिल हटा लेना जुल्म ढाना छोड़ दो ||

 

(17) जफा इनको नही करते दिखाकर मुह छिपा लेना | 

                               बेरूखी  होती नहीं कांटो से दामन छुड़ा लेना    

 

(18) बेरे लगे झाड़ी पर इन्हे खाने मत देना |

ये प्यार के पल फिर नही आयेंगे इन्हे जाने मत देना 

 

(19) फूलो का गुलदस्ता तुम्हारी समाधी पर नहीं चढाना होगा 

तुम्हारे प्यार के चक्कर मे मुझे जाना पड़ेगा 

 

(20) प्यार इश्क और मुहब्बत मै नहीं मानता 

मुझे भी एक दिन प्यार हो जायेगा मैं नहीं जानता 

 

(21 ) तुमने पैर छूने के बाद मुझे सब कुछ माना है 

इतना ध्यान रहे तुम्हें मेरे घर ही आना है 

 

(22) अगर तुम किसी की बेटी हो तो मै भीं किसी का बेटा हूँ 

तुम्हारे उन वादों की वजह से मैं अरथी पर लेटा हूँ 

 

(23) चन्द बुंदे बहायी हैं मैंने सच्चे प्यार की खातिर |

मैं खुद को मिटा सकता हूं सच्चे प्यार की खातिर ||

रोमांटिक  शायरी

24- आप तो बहुत खुश हैं हमें तड़पाने के बाद  |

                                         आप भी तड़पेंगे कभी हमारे मर जाने के बाद ||

                 

                                    25 – अपने प्यार में बांध के , मुझे कर दिया बरबाद है |

                                            पहले मुझे मर जाने दे , फिर तू आजाद है   ||

 

                  26 – तूफान तो बहुत आये जिंदगी में , लेकिन थम गये |

                     तुमने सुनाये थे जो बोल , मेरे दिल पर जम गये ||

 

    27 – तुमने क्यों नहीं सोचा था , वादे करते हुए | 

तुम्हारे इन्हीं वादों ने , हमे बहुत जख्म दिये ||

                                       

     28 – तुम को बेवफा समझू  , मैं इतना बेवकूफ नहीं |

                                 तुम तो चाहती हो मुझे , तुम्हारे घर वालों को मंजूरी नहीं ||                                   

 

          29 – मेरी जगह कोई और होता , तुम्हें बेवफा का नाम दे देता  

अगर मेरे बस में होता , तुम्हारे सारे गम ले लेता ||

 

30 – तुमने जाना नहीं है मुझको , ना  ही मेरी पहचान है | 

बस आपके विश्वास पे , अटकी हुई मेरी जान है ||

 

31 – तुम्हें पता है हम तुम्हें कितना प्यार करते हैं और करेंगे | 

मैं तुम्हें किसी की नहीं होने दूंगा , मेरे मरने के बाद कुछ भी करना || 

 

32 – तुम्हें पाने के लिए , मैंने सभी से पूछा है  | 

क्यों मुझे धोखा देते है , मेरे साथ ऐसा क्यों होता है ||

 

33 – मैं नहीं भूल सकता तुम्हें , चाहे कुछ भी कीमत चुकानी पड़े | 

 आपको पाने के लिए चाहें , जान की बाजी लगानी पड़े ||

 

34 – मैं इतनी आसानी से तुम्हें , अपने से अलग नहीं होने दूंगा |

तुम मेरी ना हो सकी , किसी और की भी नहीं होने दूंगा ||

 

35 – तुम्हारे घर वालों ने मना की , मेरा दिल नहीं तड़प रहा है |

तुम्हारी  मना ना हो जाए , इसलिए दिल धडक रहा है ||

 

रोमांटिक  शायरी

 

 

     

    

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*