शुगर का आयुर्वेदिक दवा

शुगर का आयुर्वेदिक दवा

डायबिटीज़ (मधुमेह ) के नये या पुराने रोगी को मीठे शुगर वाले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए |

इस रोग में धीरे – धीरे पैदल चलना तथा प्रातः कालीन सैर अवश्य करनी चाहिए |

1.  जामुन की गुठली 5 तोला , सोंठ 5 तोला , गुडमार बूटी 10 तोला इन सबको कूट – पीसकर ग्वारपाठे के 

रस में घोटकर 4-4 रत्ती की गोलियाँ बना लें | इन्हें दिन में तीन बार पानी के साथ सेवन करते रहने से 

डायबिटीज़ (शुगर ) का रोग शीघ्र दूर हो जाता है |

2. जामुन के चार हरे और नर्म पत्ते खूब बारीक कर 60 ग्राम पानी में रगड़ , छानकर प्रातः दस दिन

तक लगातार पियेँ | तत्पश्चात इसे हर 2 महीने बाद दस दिन तक लें | मधुमेह (शुगर ) दूर करने की

यह अति उत्तम औषधि है |

3. रोग की प्रारम्भिक अवस्था में जामुन के चार पत्ते प्रातः तथा शाम को चबाकर खाने से तीसरे दिन ही मधुमेह 

में लाभ होगा |

4. अच्छी पकी हुई 60 ग्राम जामुन को 300 ग्राम उबलते हुए पानी में डालकर ढाँप दें |

आधा घंटे बाद मसलकर छान लें |

इसके 3 भाग करके एक – एक मात्रा दिन में तीन बार पीने से रोगी के मूत्र में शर्करा बहुत कम हो जाती है |

नियमपूर्वक कुछ समय तक सेवन करते रहने से रोगी बिल्कुल ठीक हो जाता है |

5. करेला का सेवन भी मधुमेह में लाभकारी है |

6. जामुन की गुठलियों को सुखाकर , पीसकर उनका चूर्ण बना लें | 2 चम्मच प्रातः पानी के साथ सेवन कर 

21 दिन तक लें | लाभ अवश्य होगा |

7.  मेथी दाना 6 ग्राम लेकर थोड़ा कूट लें और साँय पानी में भिगो दें | प्रातः इसे खूब घोंटें और बिना मीठा

मिलाये पीयेँ | दो महीने तक सेवन करने से शुगर (मधुमेह) नाम का रोग दूर हो जाता है | 

 

 

Random Posts

  • Hindi Paheli Uttar Sahit

    Hindi Paheli Uttar Sahit रह – रह बजती पर , घड़ी नहीं पतली , दुबली पर छड़ी नहीं , दो मुख […]

  • मित्रता कैसे टूटे ?

    मित्रता कैसे टूटे  बादशाह अकबर के पुत्र शहजादा सलीम तथा दिल्ली के एक व्यापारी के पुत्र की आपस मे गहरी […]

  • बड़ा कौन

    अकबर ने दरबार मे प्रश्न किया -“सबसे बड़ा कौन है ? दरबार मे जीतने भी दरबारी बैठे थे सभी के […]

  • सम्पादक पति का लव लेटर

        मेरी प्यारी रचना सदा प्रकाशित रहो  पिछले सप्ताह माइके से भेजा हुआ तुम्हारा हस्तलिखित प्रेम -पत्र प्राप्त हुआ […]

6 thoughts on “शुगर का आयुर्वेदिक दवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*