Nightfall Ka Ilaj || Swapndosh Ka Gharelu aur Ayurvedic Ilaj

Nightfall Ka Ilaj , Swapndosh Kise Kahate Hain

Nightfall Ka Ilaj
Nightfall Ka Ilaj

दोस्तों नमस्कार इस पोस्ट मे हम Nightfall Ka Ilaj एक ऐसी समस्या का समाधान जानेंगे जो  किशोरावस्था में अधिक देखने को मिलता है |सोते समय बिना उत्तेजना के या बिना स्त्री संभोग किए बिना वीर्य का निकल जाना उसी को Nightfall या  कहते हैं | इसमे इस प्रकार पता चलता है जब व्यक्ति सो करके सुबह जागता है तो उसके कपड़े गीले या कपड़ों पर सफ़ेद निशान के धब्बे मिलते हैं |

किसी व्यक्ति को यदि Swapndosh कभी – कभी अर्थात महीने मे 1-2 बार हो जाये और इसके बाद उसे कमजोरी का एहसास न हो तथा वह अपने आप को चुस्त और फुर्तीला महसूस करे तो उस हालत मे किसी भी प्रकार का चिन्ता करने की अवश्यक्ता नहीं है | परंतु जब अगर Nightfall , Swapndosh महीने में 6-7 या और अधिक बार हो जाये तो रोग समझ लेना चाहिए |स्वप्नदोष के बाद रोग को अवस्था में सिर दर्द व चक्कर आना , थकावट व सुस्ती , स्वभाव में चिड़चिड़ापन ,शरीर में शक्तिहीन्ता का अनुभव होना है |

Nightfall Ka Ilaj

स्वप्नदोष का रोग हो जाने पर धातु का निकलना याददाश्त की कमी , शरीर और मन की हीनता , चेहरे  का रौनक चले जाना ,भूख का कम लगना , पेट में गैस की सिकायत , प्यास अधिक लगना और मुंह का सुखना , शरीर का सुस्त रहना और आलस्य, हाथ – पाँव के तालुवों में जलन , तालु कण्ठ , जीभ तथा दांतों पर मेल , हृदय अधिक धड़कना , खून की कमी , कमर तथा शरीर के अन्य भागों में दर्द , वीर्य का पतला हो जाना , संभोग करते समय वीर्य का बहुत जल्दी निकल जाना , अस्थिरता , बड़े या नए लोगों के साथ शर्म महसूस करना , सिर में चक्कर आना , वजन की कमी , आँखों के पीछे दर्द आदि लक्षण होते हैं |

Nightfall Ka Ilaj  , Swapndosh Ka Karan –

Nightfall Ka Ilaj
Nightfall Ka Ilaj

दोस्तों ऊपर की लाइनों में हमने Swapndosh के लक्षण के बारे में जाना अब हम इसके होने के कारण को जानेंगे | उत्तेजक चित्र या image देखना ,संभोग के बारे में सोंचना , नशे की लत जैसे – शराब पीना तंबाकू खाना और अन्य किसी प्रकार का नशा करना ,अश्लील चित्र देखना व गंदी किताबें या लेख पढ़ना , सहवास के बारे में साथियों से बातें करना ,अत्यधिक स्त्री सहवास , चित्त सोना ,स्त्रियों के प्रति अत्यधिक आकर्षक होना , खाना खाते ही सो जाना ,पेट में कीड़े की समस्या , हस्त मैथुन अथवा गुदा मैथुन , मानसिक परिश्रम अधिक करना , खट्टी मीठी , चरपरी तथा गरम वस्तुओं का प्रयोग , वीर्य की थैलियों की ऐंठन , स्तंभन शक्ति की कमी , वीर्य की अधिकता , वीर्य की गर्मी , मूत्राशय की खराश , अर्श ,घुड़सवारी आदि के कारण Nightfall , Swapndosh की समस्या होती है |

Nightfall Ka Ilaj , स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा

(1) निओ ( चरक ) कंपनी की 2 टिकिया दिन में 2-3 बार दूध से दें | स्नायुदुर्बलता स्वप्नदोष , हाथ – पाँव के तलवों में पसीना आना , थकान व बचपन की कमजोरियों को ठीक करती है | स्नायु मण्डल को नई जिंदगी देती है और आत्म विश्वास बढ़ाती है |

नोट – यदि पेट में कीड़े हैं या कब्ज और गैस बन रहा हो तो पहले उसको ठीक करें बाद में ‘ निओ ‘ का प्रयोग करें |

(2)  स्पेमेन फोर्ट (Speman Fort ) हिमालय क . की 1 या 2 गोली सुबह और साम ताजा जल से खाएं |

( 3 )  स्वप्नहरी Swapna Hari ( डाबर ) 1- 1 गोली दिन में तीन बार सुबह , दोपहर , शाम ताजा जल से खाएं |

(4 ) सरपीना Serpina ( हिमालया ) कंपनी का 1-1 गोली दिन में 2 बार दें स्वप्नदोष कम हो जाने पर सिर्फ दिन में एक लेना चाहिए |

( 5 ) बंगेश्वर रस ( वृहत ) की 1-1 गोली सुबह -साम शहद के साथ प्रयोग कराने से स्वप्नदोष दूर हो जाता है तथा बहुत सी धातुयें पुष्ट हो जाती हैं | शरीर और नसों में स्फूर्ति आ जाती है |

( 6 ) शुक्रमातुका वटी – इसके प्रयोग से वीर्य पुष्ट और गाढ़ा होकर स्वप्नदोष पूर्ण रूप से बंद हो जाता है | एक – एक गोली ताजा जल से सुबह और साम को लेना चाहिए |

( 7 )  चंद्रप्रभावटी – स्वप्नदोष तथा धातुस्त्राव में लाभप्रद है | यह वीर्य को गाढ़ा करता है | दिन में 1- 2 गोली सुबह साम दूध से खाएं |

 Swapndosh Ka Desi Aur Gharelu Dava-

Nightfall Ka Ilaj

Nightfall Ka Ilaj

( 1 ) बादाम की गिरि 1 नग , मिश्री 3 ग्राम गिलोयसत्व 3 ग्राम मक्खन में चाटकर ऊपर से मधु मिश्रित दूध सुबह साम पीने से स्वप्नदोष 8 दिन में ठीक हो जाता है |

( 2 ) गिलोय सत्व 10 ग्राम ,सफ़ेद मूसली 20ग्राम , दरियाई नारियल व तालमखाने प्रत्येक 30 ग्राम , मखानों की ठुर्री 40 ग्राम , मिश्री 50 ग्राम , सबको पीसकर छान लें |

इसमें से 6- 6 ग्राम प्रातः सांय मिश्री मिले गाय के धारोष्ण दूध के साथ खाने से सब तरह के प्रमेह , स्वप्नदोष , धातु विकार , मूत्रदोष वीर्य का शीघ्र स्खलित हो जाना , शुक्रतारल्य आदि रोग दूर हो जाता है |

( 3 ) बाबुल का गोंद 10 ग्राम प्रतिदिन 100 मि0 ली 0 जल में भिगो दें | सवेरे ही मैल छानकर उसमें 20 ग्राम मिश्री मिलाकर पी लें | इससे 21 दिन में स्वप्नदोष रोग ठीक हो जाता है |

( 4 ) हरड़ का चूर्ण तीन ग्राम शहद में मिलाकर खाने से स्वप्नदोष ठीक हो जाता है |

( 5 ) जामुन की गुठली का चूर्ण 4 ग्राम प्रतिदिन सुबह और साम पानी के साथ लेने से स्वप्नदोष होना बंद हो जाता है |

( 6 ) मुलहठी चूर्ण 3 ग्राम को शहद में मिलाकर चाटने से स्वप्नदोष बंद हो जाता है |

( 7 ) बबूल के कोमल पत्ते 6 ग्राम तक खाकर ऊपर से ठंडा पानी पी लें | इससे स्वप्नदोष तथा प्रमेह प्रमेह में बहुत ही बढ़िया फायदा होकर स्वप्नदोष ठीक हो जाता है |

नोट – ऊपर जो भी प्रयोग बताया गया है उसमें से किसी एक प्रयोग कर सकते हैं | कोई भी द्वा इस्त्माल से पहले किसी वैद्द से सलाह जरूर ले लें |

Nightfall Ka Ilaj
Nightfall Ka Ilaj

Nightfall , Swapndosh ke Liye Jaruri Jankari-

स्वप्नदोष से बचने और छुटकारा पाने के लिए आपको रात में सोने जाने से पहले अपना हाथ पाँव और मुंह अच्छी तरह से धोकर विस्तर पर 5 मिनट तक बैठ कर किसी धार्मिक किताब पढ़ना चाहिए और या तो कोई धार्मिक संगीत सुनना चाहिए | सोते समय किसी भी प्रकार का अश्लील चीजों के बारे मे नहीं सोंचना चाहिए |

स्वप्नदोष रोग होने पर हमेसा अपने पेट को साफ रखें पेट में गैस न होने दें इसके लिए लाल मिर्च , गरम मसाला , खट्टा मीठा खाना कम कर दें हल्का खाना खाएं जो जल्दी से पच जाए |

Nightfall Ka Ilaj
Swapndosh ka Gharelu aur Ayurvedic Ilaj

 

 

 

 

 

 

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*